निदेशक का संदेश

मेडिकल के बिना पूरी स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र अधूरी है यह इस क्षेत्र के सबसे महत्वपूर्ण स्तंभ है. पैरामेडिकल एक ऐसा पेशेवर है जो चिकित्सा को विशेष क्षेत्रों में चिकित्सा उपचार एवं निदान के लिए मदद करता है।
            आज के युग में रोगियों की विविधता एवं रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है जिसके कारण पैरामेडिकल के पेशेवरो की मांग अत्यधिक बढ़ गई है जो विशेषज्ञ तकनीशियन चिकित्सा एवं मानव स्वास्थ्य के प्रति बेहतर गुणवत्ता प्रदान कर रहा है इसी कारण पैरामेडिकल विज्ञान के छात्रों की मांग और महत्व रही है और स्वास्थ्य के क्षेत्र में इनका आवश्यक करियर पेश कर रहा है।
            इस जरूरत को समझते हुए मैक्स ग्रुप एक आत्मनिर्भर रोजगार मुखी एक एवं कौशल विकास केंद्रित संस्था स्थापित करने का निर्णय लिया है इसमें सभी पैरामेडिकल कोर्सेज आयुर्वेदिक होम्योपैथिक कंप्यूटर तकनीकी मैनेजमेंट एवं कौशल विकास के पाठ्यक्रमों को पढ़ाया जाएगा एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण भी दी जाएगी।
            मैक्स इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ये सारे पाठकर्म ऍम डी अर सी के साथ एवं सहयोग से करेंगे अधिकांश सैद्धांतिक एवं व्यवहारिक कक्षाएं ऍम डी अर सी में होगी जहां उत्कृष्ट उपकरण सुसोज्जित है पाठ्यक्रम की अवधि 1 साल एवं 2 साल होगी।
            यह संस्थान विधिवत रूप से nios एवं मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार से मान्यता प्राप्त है इस सारे पाठ्यक्रम इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आई एम ए) के साथ सहभागिता में है।
            मुझे यकीन है कि मैक्स इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ साइंस एंड टेक्नोलॉजी की यह पहल युवाओं को कौशल विकास के लिए अवसर प्रदान करेगा मुख्य रूप से इंटरमीडिएट/12वी पास विद्यार्थियों के लिए है जो स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र में नौकरी की संभावनाओं को तलाश कर रहे हैं या अपने अयध्मि कौशल को बढ़ाने और अपनाने में रुचि रखते हैं।
           मैं इन पाठ्यक्रमों सभी लोगों का स्वागत करता हूं और एक बेहतरीन एवं समुद्र अनुभव की अपेक्षा करता हूँ।

निदेशक श्री राजहंस सिंह
मैक्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ हेल्थ साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी

Copyright © MAX Institute of Health Science & Technology 2019.All right reserved.
Managed By HYPEMAX